India's No.1 Computer Center

Computer Fundamentals Hindi

कंप्यूटर एक एडवांस इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो यूजर्स से इनपुट के रूप में रॉ डेटा लेता है और उसे इंस्‍ट्रक्‍शन के एक सेट (प्रोग्राम) कंट्रोल के तहत प्रोसेस करता है, रिजल्‍ट प्रोडूसस करता है, और फ्यूचर यूज के लिए इसे सेव करता है।

आज की दुनिया एक इनफॉर्मेशन कि दुनिया है और हर एक के लिए कंप्यूटर के बारे में जानना बहुत आवश्यक बन गया है। कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक डाटा प्रोसेसिंग डिवाइस है, जो डेटा इनपुट को अक्सेप्ट करता है, डेटा इनपुट पर प्रोसेस करता है, और एक आवश्यक फॉर्मेट में आउटपुट प्रोडूस करता है।

Function of a Computer in Hindi:

कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो डेटा को अक्सेप्ट करता है, डेटा पर प्रोसेस करता हैं और आउटपूट जनरेट करता है और इस डेटा को स्‍टोर करता हैं।

कंप्‍यूटर का कांसेप्ट इनपूट डेटा से आउटपूट इनफॉर्मेशन को जनरेट करना हैं।

Functionalities of a Computer

कंप्यूटर की इनपुट-प्रोसेस-आउटपुट कांसेप्ट को इस प्रकार समझें-

Input:

कीबोर्ड जैसे इनपुट डिवाइसेस से कंप्यूटर इनपुट डेटा को स्वीकार करता है। इनपुट डेटा कैरेक्‍टर, वर्ड, टेक्‍स्‍ट, साउंड, इमेज, डयॉक्‍युमेंट आदि कुछ भी हो सकता हैं।

Process:

कंप्यूटर इनपुट डेटा पर प्रोसेस करता है। इसके लिए, यूजर द्वारा दिए गए इंस्‍ट्रक्‍शन या प्रोग्राम का उपयोग करके डेटा पर कुछ एक्‍शन करता है।

यह एक्‍शन अरिथमेटिक या लॉजीक कैल्‍यूकेशन, एडिटिंग, डयॉक्‍यूमेंट को मॉडिफाइ करना, आदि हो सकती है।

प्रोसेसिंग के दौरान, डेटा, इंस्‍ट्रक्‍शन और आउटपुट को कंप्यूटर की मुख्य मेमोरी में टेम्पररी स्‍टोर किया जाता है।

Output:

डेटा पर प्रोसेस होने के बाद जनरेट हुए रिजल्‍ट ही आउटपुट हैं। यह आउटपुट टेक्‍स्‍ट, साउंड, इमेज, डयॉक्‍युमेंट आदि के रूप में हो सकता है।

कंप्यूटर मॉनिटर पर आउटपुट डिस्‍प्‍ले होता है इसे सॉफ्टकॉपी कहां जाता हैं, प्रिंटर से प्रिंट लिया जाता हैं इसे हार्डकॉपी कहां जाता हैं।

Storage:

इनपुट डेटा, इंस्‍ट्रक्‍शन और आउटपुट को परमानेंटली डिस्‍क या टेप जैसे सेकंडरी स्‍टोरेज डिवाइसेस में स्‍टोर किया जाता हैं। इस स्‍टोर डेटा को बाद में रिट्रीव किया जा सकता है, जब भी आवश्यक हो।

Computer Fundamentals Hindi

Components of Computer Hardware in Hindi:

कंप्यूटर सिस्टम हार्डवेयर में तीन मुख्य कंपोनेंट्स होते हैं –

Input/Output (I/O) Unit

Central Processing Unit (CPU)

Memory Unit

Components of Computer Hardware

Input/Output Unit

I/O युनिट के माध्यम से यूजर कंप्‍यूटर के साथ इंटरैक्ट करता है। इनपुट यूनिट यूजर से डेटा एक्‍सेप्‍ट करता है और प्रोसेस किए हुए डेटा को आउटपुट डिवाइसेस प्राप्‍त करते है जो यूजर्स के लिए इनफॉर्मेशन होती हैं।

कंप्‍यूटर को बाइनरी (0 और 1) की लैंग्‍वेज ही समझ में आती हैं, जो हम समझ नहीं सकते। इसलिए इनपुट युनिट यूजर्स से प्राप्‍त डेटा को कंप्‍यूटर समझ सकता हैं ऐसे फॉर्म से कन्‍वर्ट करता हैं। इसी प्रकार, आउटपुट यूनिट आउटपुट को ऐसे फॉर्म में कन्‍वर्ट करता है जिसे यूजर समझ सकता है।

आम इनपुट डिवाइसेस कीबोर्ड और माउस हैं जबकि आम आउटपुट डिवाइसेस में मॉनिटर और प्रिंटर हैं।

Central Processing Unit

Central Processing Unit (CPU) कंप्‍यूटर के ऑपरेशन को कंट्रोल, कोआर्डिनेट और सूपर्वाइज़ करता है। यह इनपुट डेटा के प्रोसेसिंग के लिए ज़िम्मेदार है। सीपीयू में Arithmetic Logic Unit (ALU) और Control Unit (CU) शामिल हैं।

ALU, इनपुट डेटा पर सभी अरिथमेटिक और लॉजिक ऑपरेशन करता है।

CU, कंप्यूटर के ओवरऑल ऑपरेशन को कंट्रोल करता है, अर्थात यह इंस्‍ट्रक्‍शन के एक्सेक्यूशन सिक्‍वेंस को चेक करता है, और कम्प्यूटर युनिट के ओवरऑल फंक्‍शन को कंट्रोल और कोऑर्डिनट करता हैं।

इसके अलावा, मेमोरी युनिट डेटा प्रोसेसिंग के दौरान CPU में डेटा, इंस्‍ट्रक्‍शन, एड्रेस और कैल्‍युकेशन के रिजल्‍ट को स्‍टोर करता हैं। इस Memory को कंप्‍यूटर कि मुख्‍य मेमोरी या प्राइमरी मेमोरी भी कहां जाता हैं।

प्रोसेसिंग होने से पहले इनपूट डेटा को इस मुख्‍य मेमोरी में लाया जाता है। डेटा प्रोसेसिंग के लिए आवश्यक इंस्‍ट्रक्‍शन और किसी भी इंटरमीडिएट रिजल्‍ट भी मुख्य मेमोरी में स्‍टोर किए जाते हैं। आउटपुट डिवाइस में ट्रांसफर होने से पहले आउपुट को मेमोरी में स्‍टोर किया जाता हैं।

सीपीयू मुख्य मेमोरी में स्‍टोर इनफॉर्मेशन के साथ काम कर सकता है। एक अन्य प्रकार की स्‍टोरेज युनिट को कंप्यूटर की सेकंडरी मेमोरी के रूप में भी जाना जाता है। डेटा, प्रोग्राम और आउटपुट को कंप्यूटर के स्‍टोरेज युनिट में परमानेंटली स्‍टोर किया जाता है। सेकंडरी स्‍टोरेज में हार्ड डिस्‍क, ऑप्टिकल डिस्क और मैग्‍नेटीप टेप हैं।

Computer Fundamentals Hindi

कंप्यूटर के उपयोग:

कंप्यूटर में हाई स्‍पीड, डिलिजेंस, एक्यूरेसी, रिलायबिलिटी और वेर्सटिलिटी की वजह से यह हमारे जीवन के साथ ही बिजनेस ऑर्गनिज़ैशन का एक इंटिग्रेटेड हिस्‍सा बन गया हैं।

मॉडर्न ह्यूमन लाइफ में कंप्‍यूटर एक अनिवार्य हिस्सा बन गया हैं। Invention of computer के बाद से इनकी कंप्यूटिंग पॉवर बढ़ी और साइज घटाती गई।

प्रत्येक क्षेत्र में कंप्यूटरों के व्यापक उपयोग के कारण, आज की दुनिया में कंप्यूटर के बिना जीवन अकल्पनीय होगा। उन्होंने मानव जीवन को बेहतर और खुश बनाया है। काम के विभिन्न क्षेत्रों में कंप्यूटर उपयोग कई हैं इंजीनियरों, आर्किटेक्ट्स, ज्वेलर्स और फिल्म निर्माता सभी डिजाइन करने के लिए कंप्यूटरों का उपयोग करते हैं।

टिचर्स, राइटर्स और अधिकांश ऑफीस वर्कर्स, रिसर्च, वर्ड प्रोसेसिंग और ईमेलिंग के लिए कंप्यूटर का उपयोग करते हैं। लघु व्यवसाय कंप्यूटर को पॉइंट-ऑफ-सेल के रूप में और जनरल रिकॉर्ड रखने के लिए उपयोग कर सकते हैं।

1) शिक्षा के क्षेत्र में कंप्यूटर का उपयोग:

दुनिया भर के स्कूलों और कॉलेजों ने डिजिटाइजेशन के साथ स्टूडेंट्स को डिजिटली और क्रिएटिवली रूप से पढ़ाने के लिए कंप्यूटर तकनीकों का इस्तेमाल किया है। क्‍लासरूम में कंप्यूटर का उपयोग स्टूडेंट्स के दिमाग में क्रिएटिवीटी और इमेजिनेशन को बढ़ाने के लिए किया जाता हैं।

ड्राइंग टूल्स, स्प्रैडशीट, ऑडियो, वीडियो लेक्चर्स और पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन आदि, स्टूडेंट्स के लिए सब्‍जेक्‍ट को अधिक गहराई से और सही तरीके से जानने के लिए बहुत फायदेमंद हैं।

जैसा कि आप जानते हैं कि हमारे जीवन में शिक्षा सबसे महत्वपूर्ण है। कंप्यूटर ने एजुकेशन सिस्‍टम को पुनः बनाया। यूनिवर्सिटीज, कॉलेज और लगभग सभी तरह के एजुकेशन इंस्टिटयूट कंप्यूटर का उपयोग कर रहे हैं। कई सारे कॉलेज और यूनिवर्सिटीज अब कॉलेज के स्टूडेंट्स के लिए ऑनलाइन डिग्री प्रोग्राम भी चला रहे हैं।

Google Classroom: लर्निंग को ले जाएं क्लासरूम की दीवारों से परे!

2) बिजनेस में कंप्यूटर का इस्तेमाल:

इंटरनेट कनेक्शन के साथ कंप्यूटर का उपयोग कर हम बिज़नेस शुरू कर सकते हैं, बिज़नेस चला सकते हैं और बिज़नेस को मैनेज कर सकते हैं और हम कंप्यूटर के उपयोग से बिज़नेस को डेवलप कर सकते हैं।

गूगल, फेसबुक, लिंक्डइन, अमेज़ॅन, अलीबाबा इत्यादि सभी कम्प्यूटर और इंटरनेट के इस्तेमाल से बनाई गई वेबसाइट हैं।

कंप्यूटर तकनीकों के इस्तेमाल के बिना हम दुनिया भर के डेली बिज़नेस ऑपरेशन की कल्पना नहीं कर सकते। शुरुआती दिनों में जब चार्ल्स बबेज द्वारा आविष्कार किया गया पहला मैकेनिकल कंप्यूटर का उपयोग केवल बिज़नेस सिस्‍टम को कंट्रोल करने के लिए किया गया था और उसने बिज़नेस प्रोसेस को सही ढंग से बढ़ा दिया गया था। लेकिन आज सब कुछ कंप्यूटर द्वारा कंट्रोल और मैनेज किया जाता है

बिज़नेसेस और कंपनियां, मार्केटिंग और बिज़नेस प्‍लानिंग बनाने के लिए कंप्यूटर का उपयोग करती हैं, वे कंप्यूटर का उपयोग कस्‍टमर्स के डेटा को रिकॉर्ड करने के लिए करते हैं, वे प्रॉडक्‍ट और सर्विसेस और आदि को मैनेज करने के लिए कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं।

इंटरनेट कनेक्शन के साथ कंप्यूटर वास्तव में बिज़नेस के लिए महत्वपूर्ण है। अब वे इंटरनेट मार्केटिंग कर सकते हैं, वे प्रॉडक्‍ट और सर्विसेस को ऑनलाइन बेच सकते हैं। वे मैनेज कर सकते हैं; कंप्यूटर और इंटरनेट के उपयोग से दुनिया भर के एम्प्लॉइज को हाइर कर सकते हैं।

बिज़नेस में कम्प्यूटर का उपयोग करने से कंपनियां अपने कस्‍टमर बेस को तेजी से बढ़ने में मदद हो रही हैं।

कंप्‍यूटर का इस्तेमाल, कंपनियों और छोटे व्यापार मालिकों के लिए चुनौतीपूर्ण भी बना रहा हैं। चूंकि ग्राहकों के पास इंटरनेट के उपयोग से सर्वोत्तम प्रॉडक्‍ट या सर्विसेस को चुनने के कई ऑप्‍शन हैं।

आज कोई व्यक्ति घर से अपना बिज़नेस शुरू कर सकता है। फ्रीलान्सिंग इसका एक बड़ा उदाहरण है। कंप्यूटर और इंटरनेट के इस्तेमाल से फ्रीलांसर्स घर से दूर काम कर रहे हैं।

कंप्यूटर के इस्तेमाल से पैसे कमाना अब इतना मुश्किल नहीं है, लेकिन इसके लिए आपको बस कुछ ऐप्‍लीकेशन या प्रोग्रामिंग लैग्‍वेज में मास्टर बनने की आवश्यकता है।

Google Classroom: लर्निंग को ले जाएं क्लासरूम की दीवारों से परे!

3) हॉस्पिटल्स में कंप्यूटर का उपयोग:

हॉस्पिटल्स में कंप्यूटर का उपयोग डॉक्टरों और पेशन्ट के लिए बहुत से लाभ प्रदान करता है। हॉस्पिटल अपने पेशन्ट के ट्रीटमेंट के रिकॉडस्, मेडिसिन रिकॉर्डस् का डाटाबेस बना सकते हैं।

डॉक्टर मरीजों की बीमारियों का पता लगाने के लिए एक कंप्यूटर का इस्तेमाल कर रहे हैं। वे कंप्यूटर और हार्डवेयर डिवाइसेस के विभिन्न मेडिकल ऐप्‍लीकेशन की मदद ले रहे हैं। कंप्यूटर और इसके ऐप्‍लीकेशन का उपयोग डिज़ीज़, बल्‍ड टेस्‍ट, और युरिन टेस्‍ट, ब्रेन टेस्‍ट, और बॉडी स्कैनिंग इत्यादि पर रिसर्च करने के लिए होता है।

4) बैंकिंग क्षेत्र में कंप्यूटर का उपयोग:

बैंक ग्राहकों की डिमांड को फास्‍ट और एक्यूरेट करने के लिए डेली कंप्यूटर का उपयोग कर रहे हैं। बैंक अपने कस्‍टमर्स के अकाउंट में पैसे डिपॉजिट करने के लिए कंप्यूटर का उपयोग कर रहे हैं। कैशियर अपने बैंकिंग ऐप्‍लीकेशन में कस्‍टमर्स के अकाउंट नंबर्स से एंटर करता है, वे पहले अकाउंट नंबर और कस्‍टमर्स डिटेल्‍स को कन्फर्म करते हैं और फिर किबोर्ड के इस्तेमाल से डिपॉजिट अमाउंट को बैंकिंग ऐप्‍लीकेशन में एंटर करते हैं। यह प्रोसेस फास्‍ट और एक्यूरेट है।

बैंक अपने कस्‍टमर्स के लिए पैसे निकालने और कैश जमा करने के लिए एटीएम भी प्रोवाइड कर रहे हैं, जिससे 24 घंटे बैंकिंग संभव हो गई हैं।

चेक बुक प्रिंट करने के लिए भी अब कंप्‍यूटर मशीन का इस्‍तेमाल किया जाता हैं। लगभग पूरी बैंकिंग प्रोसेस अब कंप्यूटर द्वारा की जाती है।

इंटरनेट बैंकिंग ने कस्‍टमर्स कि बैंक में लगने वाली कतार को ही खत्म कर दिया हैं। क्योंकि कस्‍टमर्स अब ऑनलाइन इंटरनेट पर ही उनके सारे बैंकिंग के काम कर सकते हैं और इससे उनका समय भी बचता हैं।

मोबाइल बैंकिंग से इस क्षेत्र में क्रांति आ गई हैं। कस्‍टमर्स अब अपने स्‍मार्टफोन से ही पैसे ट्रांसफर, मासिक बिल या शॉपिंग कर रहे हैं।

Google Classroom: लर्निंग को ले जाएं क्लासरूम की दीवारों से परे!

इसके अलावा कस्‍टमर्स कंप्यूटर द्वारा विभिन्न बैंक लोन स्‍क्रीम, जैसे कि बिजनेस लोन, होम लोन और कार लोन के बारे में नॉलेज प्राप्त कर सकते हैं।

कस्‍टमर्स अब लोन के लिए अपनी पात्रता भी ऑनलाइन चेक कर सकते हैं और लोन के लिए ऑनलाइन अप्‍लाई कर सकते हैं।

5)  सरकारी कार्यालयों में कंप्यूटर का उपयोग:

गवर्नमेंट के काम या ऑफिशियल कामों को करने के लिए अतीत में बहुत अधिक समय लगता था। लेकिन आज कंप्‍यूटर के आने से यह काम फास्‍ट करना आसान हो गया हैं।

6) घर में कंप्यूटर का उपयोग:

अब बहुत सारे यूजर्स अपने घर पर कंप्‍यूटर या लैपटॉप पर निर्भर होते हैं। घर बैठे ही वे अपने कई सारे काम कर सकते हैं। वे घर के बिलों को ऑनलाइन भर सकते हैं और इसके साथ ही वे घर से ही अपने बिजनेस को चला सकते हैं।

जबकि कुछ लोग गाने सुनने और मुवी देखने के लिए घर पर कंप्‍यूटर का उपयोग करते हैं।

आप कंप्यूटर के उपयोग से दुनिया भर के लोगों के साथ कम्युनिकेशन  कर सकते हैं। आप नए कौशल सीख सकते हैं।

7) मार्केटिंग में कंप्यूटर का उपयोग:

इंटरनेट के साथ कंप्यूटर का उपयोग ऑनलाइन प्रॉडक्‍ट और सर्विसेस कि मार्केटिंग करने के नए तरीके तैयार कर रहे हैं। डिजिटल मार्केटिंग सर्विसेस, प्रॉडक्‍ट, वेबसाइट और बिजनेस बढ़ रहे हैं। बिजनेस वेबसाइटों और सोशल मीडिया पर कंटेंट मार्केटिंग आर्टिकल पब्‍लीश करने के लिए,  कंप्यूटर का उपयोग कर सकते हैं। वे अमेज़ॅन जैसे अपने पोर्टल पर प्रॉडक्‍ट बेच सकते हैं।

8) ट्रैवल:

अब आप अपने घर या ऑफिस में बैठकर ही ऑनलाइन एरलाइन या रेल्‍वे टिकट बुक कर सकते हैं।

Google Classroom: लर्निंग को ले जाएं क्लासरूम की दीवारों से परे!

इसके साथ ही आप ऑनलाइन अपने ट्रैवल कि प्‍लानिंग और हॉटेल भी बुक कर सकते हैं।

9) टेलीकम्युनिकशन्स:

सॉफ़्टवेयर का व्यापक रूप से यहां उपयोग किया जाता है। इसके अलावा सभी मोबाइल फोन में कस्‍टमर्स के डिटेल्‍स को बनाए रखने और मोबाइल सॉफ्टवेयर के माध्यम से मैसेज, ऑडियो और वीडियो भी भेजने के लिए सॉफ्टवेयर एम्बेडेड है। अब इंटरनेट मोबाइल फोन पर ही उपलब्ध है।

10) डिफेंस:

लगभग हर हथियार में एम्बेडेड सॉफ्टवेयर है। सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल फ्लाइट को कंट्रोल करने और बैलिस्टिक मिसाइलों में टार्गेट करने के लिए किया जाता है। सॉफ्टवेयर का उपयोग परमाणु बम को कंट्रोल और एक्‍सेस करने के लिए किया जाता है।

Leave a Reply

Please Subscribe

 

PLEASE SUBSCRIBE FOR MORE EDUCATIONAL NEWSLETTER & UPDATES

Recent Posts

E-Global India Institute vision 2026
E-Global India Institute vision 2026

STUDENT RESULT

EGIIT RESULTS